लाल डायरी को लेकर इतना हंगामा क्यों खड़ा हो रखा

आज हम बात करेंगे लाल डायरी की

इस लाल डायरी को लेकर इतना हंगामा क्यों खड़ा हो रखा है इसके साथ ही एक मंत्री को भी बर्खास्त कर दिया

दरअसल बताया जा रहा है कि उदयपुरवाटी के विधायक राजेंद्र गुढ़ा को राजस्थान सरकार ने हाल ही में मंत्री पद से बर्खास्त कर दिया है
राजेंद्र गुड्डा का एक ऐसा बयान जो राजस्थान में बहुत ज्यादा भौकाल मचा रहा है राजस्थान राजस्थान में बढ़ती हुई गर्मी का तापमान जिसे 50 डिग्री से दोगुना हो रहा है वैसे ही राजस्थान की राजनीति भी गरमा हुई है उसका भी पारा बहुत ज्यादा हाई हो चुका है राजेंद्र सिंह गूढ़ा को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 22 जुलाई शुक्रवार को मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया उससे पहले विधानसभा में एक बयान देकर गलत हो गया था

गहलोत सरकार ने क्यों गुड़ा को बर्खास्त किया


तो आइए जानते हैं कि गहलोत सरकार ने क्यों गुड़ा को बर्खास्त किया


राजस्थान की विधानसभा के अंदर हंगामा बड़ी़ जोरों शोरों से चल रहा था उसी के दौरान राजेंद्र गुढ़ा ने कहा यह सब सही है महिलाएं सुरक्षित नहीं इसे मानना चाहिए हम महिला सुरक्षा में विफल रहे हैं और राजस्थान में आए दिन अत्याचार बहुत तेजी से बढ़ता जा रहा है इस बयान के बाद राजनीतिक में और ज्यादा गर्मा गई , फिर शाम होते-होते सीएम अशोक गहलोत ने राज्यपाल से गुड़ा को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने का प्रस्ताव भेज दिया और मंत्रिमंडल से बाहर का रास्ता दिखा दिया।

लाल डायरी के अंदर बहुत सारे राज लिखे


गुड़ा और बीजेपी ने इसे सच बोलने की सजा बताया इसके बाद कांग्रेस ने इसे अनुशासनहीनता माना और सीएम द्वारा कार्रवाई को सही ठहराया राजेंद्र गुड्डा की बातें माने तो इस लाल डायरी के अंदर बहुत सारे राज लिखे हुए हैं जिसके अंतर्गत गहलोत सरकार पर बड़ी आफत आ सकती हैं इस डायरी के अंदर ऐसे ऐसे कारनामे की गहलोत सरकार इस चुनाव में हार भी सकती है बुढ़ा विधानसभा भवन के बाहर मीडिया से बात करते हुए कहा कि विधानसभा में अंदर मुझसे लाल डायरी का आधा छीन लिया गया, लेकिन इसका आधा हिस्सा अभी भी मेरे पास है और बताया कि गहलोत सरकार के सारे काले कारनामे इसके अंदर है और विधायकों को क्या-क्या दिया राज्यसभा में विधायक सरकार बचाने से कैसे रोका , क्रिकेट के चुनाव में किस-किस को पैसे दिए और खुलासा में आगे भी और करूंगा और गुड़ा ने बताया कि

“धर्मेंद्र राठौड़ के घर पर ईडी और इनकम टैक्स में छापा मारा था मैंने सीएम गहलोत के आदेश पर वहां से लाल डायरी निकाली थी अगर मैं लाल डायरी नहीं निकालता तो सीएम जेल में होते आज” ।

बीजेपी के कई नेता के बयान


और इसके साथ ही बीजेपी के कई नेता के बयान सामने आ रहे हैं उनके साथ ही जोधपुर के सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि गहलोत से पूछना पड़ेगा कि लाल डायरी में क्या है और इसको लेकर राजस्थान की पूरी जनता जानना चाहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *